हाजीपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पटना में दीघा-सोनपुर रेल-कम-रोड ब्रिज का इनॉगरेशन किया. उन्होंने हाजीपुर और मुंगेर के लिए कई रेलवे योजनाओं का शुभारंभ किया. इस दौरान जब पीएम मोदी के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपना भाषण देने आए तो लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाए. मोदी ने बीच में खड़े होकर लोगों से शांत रहने की अपील की.
 
हाजीपुर में क्या बोले मोदी?
हाजीपुर में मोदी ने कहा कि ब्रिज कितना अहम है ये आप लोगों के उत्साह से पता चलता है. यह प्रोजेक्ट तब शुरू हुआ था जब अटलजी पीएम थे और नीतीश जी रेल मिनिस्टर थे जिसमें आज ये बनकर पूरा हुआ है. इस बीच उन्होंने कहा कि ‘रेल, रोड, इन्फ्रास्ट्रक्चर के मजबूत होने से विकास को गति मिलेगी. मुझे उम्मीद है कि बिहार के विकास के लिए राज्य और केंद्र सरकार साथ मिलकर काम करेंगी.’
 
इससे पहले प्रधानमंत्री के पटना हवाईअड्डे पर उतरने के बाद राज्यपाल रामनाथ कोविंद और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनका स्वागत किया. समारोह को मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति टी.एस. ठाकुर, केंद्रीय कानून मंत्री डी.वी. सदानंद गौड़ा, राज्यपाल रामनाथ कोविंद तथा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी संबोधित किया. 
 
इससे पहले पीएम मोदी ने पटना हाईकोर्ट के शताब्दी समापन समारोह में हिस्सा लिया. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में न्यायपालिका की अहम भूमिका होती है. आजादी की लड़ाई में वकीलों का बहुत बड़ा योगदान रहा है. आज भी जब-जब देश पर संकट आया है, वकीलों ने अपनी आवाज बुलंद की है.
 
उन्होंने न्याय प्रणाली में तकनीक का जिक्र करते हुए कहा कि आज बार सदस्य के रूप में गूगल की अपनी अलग भूमिका हो गई है, इस कारण लोगों को अपने फैसले देने में सहूलियत हुई है.