नई दिल्ली. एनजीटी की तरफ से आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर को दिल्ली में यमुना किनारे अपने कार्यक्रम के लिए मंजूरी मिल गई है. वहीं इस बारे में एक नई बात सामने आई है कि सेना ने यह पुल दिल्ली सरकार के कहने पर बनाया था. श्री श्री के कार्यक्रम के लिए केजरीवाल सरकार ने रक्षा मंत्रालय से मदद मांगी थी.

दिल्ली सरकार में संस्कृति और जल विभाग के मंत्री कपिल मिश्रा ने देश के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को पत्र लिखकर पंटून पुल बनाने के लिए सेना की मदद मांगी थी. उन्होंने समारोह के दौरान यातायात काबू में रखने के लिए यमुना पर अस्थायी पुल बनाने में मदद के लिए पत्र लिखा था.

वहीं कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि मेरी चिट्ठी का गलत मतलब निकाला गया. सेना के जवान वहां पहले से एक पुल बना चुके थे. मैंने बस इतना कहा था कि यह नाकाफी है. बता दें कि इससे पहले श्री श्री के समारोह के लिए सेना की मदद पर विपक्ष ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा.