नई दिल्ली. बीजेपी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर वयंग्यात्मक तरीके से पलटवार किया हैं. केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने राहुल पर तंज कसते हुए कहा है कि कि वो हर काम का श्रेय ले सकते हैं बस संसद में अहम बिल पास होने दें. साथ ही वैंकेया ने कांग्रेस पर गरीबों के लिए सिर्फ जुबान खर्च करने का आरोप लगाया.
 
बता दें कि सरकार की तरफ से EPF निकासी पर टैक्स लेने की घोषणा वापस लेने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इसका श्रेय लिया था. जिसे लेकर बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस चाहे तो जीएसटी और बाकी बिल पास होने का भी श्रेय ले सकते हैं. ये बीजेपी के नहीं बल्कि देश के बिल हैं.
 
केवल दिखावा करती है कांग्रेस 
नायडू ने दावा करते हुए कहा कि कांग्रेस गरीबों की मदद के नाम पर केवल दिखावा करती रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मंत्र ‘कहना गरीबों के लिए और करना अमीरों के लिए’ रहा है. दूसरी ओर हम जो कहते हैं, वह करते हैं. साथ ही नायडू ने सभी राजनीतिक दलों से अनुरोध करते हुए कहा कि कृपया महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित करने, उनको कानून का रूप देने और गरीबों की मदद करने में हमारा सहयोग करें.
 
किसी के दबाव में काम नहीं सरकार
राहुल के दबाव वाले बयान को बचकाना बताते हुए नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राजग सरकार किसी के दबाव में काम नहीं कर रही हैं. उनका लक्ष्य देशवासियों के हितों की सेवा करना है. इसके लिए केन्द्र सरकार कोई भी कदम उठा सकती है.
 
क्या कहा था राहुल ने?
राहुल ने कहा था कि मेरा दबाव काम कर गया. मैंने सरकार से कहा था कि वो सैलरी क्लास लोगों पर दबाव न बनाए. मुझे लगता है कि सरकार मध्यम वर्गीय लोगों को परेशान कर रही है. इसलिए मैंने थोड़ा दबाव बनाया. मुझे खुशी है कि लोगों को कुछ राहत मिली है.  उन्होंने आगे कहा कि मेहनत करने वाले और मध्यम वर्गीय लोगों की सेफ्टी नेट पर टैक्स लगाना नैतिक रूप से गलत है और सरकार की जनविरोधी मानसिकता को दर्शाता है.