नई दिल्ली. पिछले कुछ दिनों से जेएनयू विवाद को लेकर चारों तरफ जमकर घमासान मचा हुआ है. इसी बीच योग गुरू बाबा रामदेव जेएनयू कैंपस में योग शिविर लगाने का विचार बना रहे हैं. जिसे लेकर जेएनयू छात्र संघ ने भी कोई आपत्ति न जताते हुए उनके विचार का स्वागत किया है. इस बात की पुष्टि करते हुए बाबा के मुख्य प्रवक्ता एसके तिजारवाला ने बताया कि बाबाजी चाहते हैं कि जेएनयू में योग शिविर लगाया जाए.
 
बाबा खुद जाएंगे JNU
तिजारवाला ने कहा कि योग शिविर से वहां के छात्रों को न सिर्फ स्वास्थ्य में लाभ होगा. बल्कि विचारों में भी सकारात्मकता आएगी. उन्होंने यह भी कहा कि बाबा खुद जेएनयू में योग सिखाने जाएंगे. हालांकि अभी तक इसका पूरा प्लान नहीं बन पाया है.
 
हर उम्र के लोगों को देते हैं ट्रेनिंग
तिजारवाला ने बताया कि हम छात्रों, बच्चों और बड़ों के साथ हर उम्र के लोगों को योग की ट्रेनिंग देते हैं. योग की क्लासेज जेलों में भी चलाई गई हैं. समाज के हर वर्ग को योग से जोड़ने की कोशिश की जा रही है.
 
छात्रों को कोई आपत्ति नहीं
योग शिविर को लेकर जेएनयू छात्र संघ की उपाध्यक्ष शेहरा राशिद ने कहा कि बाबा रामदेव पिछली बार एक कार्यक्रम में मुख्य वक्ता बनकर आ रहे थे. जिस पर छात्रों ने आपत्ति दर्ज कराई थी. अगर वो व्यक्तिगत तौर पर योगगुरु के रूप में आ रहे हैं तो हमें कोई समस्या नहीं है. 
 
इससे पहले छात्रों ने किया था विरोध
इससे पहले बाबा को वेदांत और आयुर्वेद विषय पर बोलने के लिए आमंत्रित किया गया था. जिसका छात्रों ने जमकर विरोध किया था. जिसके बाद बाबा रामदेव ने जाने से मना कर दिया था. इस संबंध में सफाई देते हुए तिजारवाला ने कहा कि  पिछली बार जो कार्यक्रम तय किया गया था उसकी पहले से जानकारी नहीं थी और न ही बाबा ने उसमें जाने के लिए हामी भरी थी.