नई दिल्ली. दिल्ली की केजरीवाल सरकार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा को अपना मार्गदर्शक बनाते हुए बजट बनाने में उनकी मदद ले रही है. 28 मार्च को दिल्ली सरकार का बजट पेश होना है, इसे लेकर सिन्हा की गाइडेंस ली जा रही हैं.

सिन्हा 15 मार्च को वित्तीय विभाग और दिल्ली के विधायकों के साथ बैठक करेंगे. इस दौरान वह अपने महत्वपूर्ण सुझाव देंगे. एक अखबार को सिन्हा ने बताया कि उन्होंने दिल्ली के विधायकों से बात करने के लिए दिल्ली विधानसभा के न्योते को स्वीकार कर लिया है. इसमें वह केंद्र सरकार के बजट बनाने के तरीके की जानकारी देंगे.

अटल सरकार में थे वित्त मंत्री

यशवंत सिन्हा एनडीए सरकार के दौरान वित्त मंत्री रह चुके हैं. तब सरकार की कमान अटल बिहारी वाजपेयी के हाथ में थी. लेकिन 2014 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बनी सरकार में उन्हें जगह नहीं मिली. यहां तक कि मार्गदर्शक मंडल में भी सिन्हा को जगह नहीं दी गई. सिन्हा मोदी सरकार की कई नीतियों का खुला विरोध कर चुके हैं.