नई दिल्ली. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने रविवार को 6,000 करोड़ रुपये के बैंक ऑफ बड़ौदा फॉरेक्स घोटाला मामले में दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के 10 ठिकानों पर छापा मारा. सीबीआई के प्रवक्ता देवप्रीत सिंह ने कहा कि छापा कुछ लोगों के कार्यालय और आवास पर मारा गया.
 
अधिकारी ने कहा, “एजेंसी को इस दौरान 40 करोड़ रुपये नकदी, 44 कंपनियों के रबर स्टाम्प, 15 पैन कार्ड और विभिन्न संदिग्ध सामग्री मिले, जिसमें पेन-ड्राइव और हार्ड डिस्क शामिल थे.” अधिकारी ने कहा कि एजेंसी को चीन, अमेरिका, यूरोप, संयुक्त अरब अमीरात, नाइजीरिया, हांगकांग और श्रीलंका की मुद्राएं भी मिलीं.
 
अधिकारी ने कहा कि अब तक की जांच में करीब 8,500 विदेशी रेमीटेंस का पता चला है. यह राशि विभिन्न कंपनियों के 59 बैंक खातों से आयात के नाम पर हांगकांग और दुबई भेजे गए थे. अधिकारी ने कहा, “जांच में 11 और व्यक्तियों और कंपनियों के घोटाला में शामिल होने का पता चला है.”
 
सीबीआई ने 9 अक्टूबर को बैंक ऑफ बड़ौदा की शिकायत पर भारतीय दंड संहिता और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत 59 खाता धारकों और अज्ञात बैंक अधिकारियों के विरुद्ध यह मामला दर्ज किया था.