नई दिल्ली. देश का पहला महिला जनप्रतिनिधि सम्मेलन शनिवार को शुरू हो जाएगा. इसका उद्घाटन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी करेंगे. लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की पहल पर आयोजित होने वाले इस सम्मेलन में केंद्रीय मंत्रियों, सांसदों समेत 400 महिला जनप्रतिनिधि शामिल होंगी.

इस सम्मेलन में लोकसभा और राज्य विधानसभा में महिलाओं को आरक्षण की जोरदार हिमायत होगी. बैठक का आयोजन कर रहीं सुमित्रा महाजन ने कहा कि इस मुद्दे पर प्रस्ताव लाने की फिलहाल कोई औपचारिक योजना नहीं है. यह बैठक में होने वाली चर्चा पर निर्भर करेगा.

उन्होंने कहा कि देशभर की महिला जनप्रतिनिधियों के लिए यह अपने समकक्षों, महिला केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों, सांसदों और न्यायपालिका और नौकरशाही में नामचीन महिलाओं से रूबरू होने का मंच मुहैया कराएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को बैठक के समापन सत्र को संबोधित करेंगे. इसमें करीब 400 महिला विधायकों, विधानपाषर्दों, केंद्रीय मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों के साथ ही पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार भी शामिल होनेवाली हैं.