जम्मू. त्राल इलाके में सेना के साथ मुठभेड़ में मारे गए आतंकवादियों में एक आतंकी 10वीं क्लास का टॉपर था. चौंका देने वाली बात है कि आतंकी मोहम्मद इशाक 20 साल की उम्र में आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़ गया था. 
 
क्लास 10वीं में आया था टॉपर 
जानकारी के अनुसार इशाक ने साल 2011 के बोर्ड परिक्षाओं में 98 फीसदी अंक हासिल किए थे. जिसके बाद उसे न्यूटन के नाम से भी पुकारा जाने लगा था.
 
सेना आतंकियों के साथ मुठभेड़ में अभियान चलाया था जिसमें तीन आंतकी मारे गए हैं. सेना के अनुसार आशिक हुसैन भट्ट नाम के आतंकी का संबंध उधमपुर अटैक के सिलसिले में सामने आया था. भट्ट ने उधमपुर हमले के लिए जिम्मेदार आतंकियों को शरण दी थी.
 
गौरतलब है कि पिछले साल उधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर हुए हमले में दो जवान शहीद हुए थे और 10 से ज्यादा घायल हुए थे. इस हमले में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया था और दूसरा जिंदा पकड़ा गया था. दोनों ही आतंकी पाकिस्तानी नागरिक थे.