नोएडा. नोएडा की रहने वाली 29 साल फैशन डिजाइनर को लापता हुए 78 घंटे बीत गए हैं लेकिन पुलिस को अभी तक कोई भी सुराग नहीं मिल पाया है. जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव खुद केस की मॉन्युटेयरिंग कर रहे हैं.  इस बीच शिप्रा को ढूंढने के लिए आईजी ने पुलिस अधिकारियों को 2 घंटे का अल्टीमेटम दिया है.
 
जानकारी के अनुसार परिजनों को अभी तक फिरोती के लिए कोई कॉल नहीं आई है. साथ ही शिप्रा की अपने पति से 29 फरवरी को दोपहर करीव 1.30 बजे ब्रह्मपुत्र मार्केट में मुलाकात हुई थी. 
 
पुलिस ने बनाई टीमें
फैशन डिजाइनर के न मिलने पर पुलिस पर दबाव बढ़ता जा रहा है. इसलिए पुलिस ने 10 टीमें बनाई है साथ ही 3 रुटों पर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. पुलिस जांच में शिप्रा के कॉल डिटेल्स और फेसबुक डेटा को खंगाल रही है. 
 
चांदनी चौक के लिए निकली थी शिल्पा
रिपोर्ट के मुताबिक शिप्रा ने 2008 में पर्ल एकेडमी से फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने के बाद बुटीक खोलकर काम शुरू कर दिया था. सोमवार दोपहर बाद शिप्रा को डिजाइनिंग के काम से चांदनी चौक जाना था. वो सफेद रंग के स्विफ्ट कार से दिल्ली के लिए निकल गई. देर शाम तक जब वो घर नहीं लौटी तो खोजबीन शुरु हो गई. इस दौरान सेक्टर 29 में उसकी कार बरामद हुई. 
 
पुलिस ने कहा कि उसकी मारूति स्विफ्ट कार नोएडा के उसके घर से 500 मीटर की दूरी पर लावारिस पाई गई. उसके पति चेतन मलिक ने नोएडा पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई है। चेतन एक स्थानीय बिल्डर हैं. पुलिस ने बताया कि परिवार को अब तक फिरौती के लिए कोई फोन कॉल नहीं आया है.