नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को दिल्ली के हाईकोर्ट ने 6 महीने की अंतरीम जमानत दे दी है. कन्हैया के परिजनों ने रंग-गुलाल लगाकर और पटाखे जलाकर जमानत पर खुशी का इजहार किया. जानकारी के अनुसार खुशी का माहौल जेएनयू परिषर में भी देखा जा रहा है.
 
 
 
जमानत की शर्ते
बता दें कि कन्हैया को छह महीने की अंतरिम जमानत दी गई है जिसमें न्यायाधीश न्यायमूर्ति प्रतिभा रानी ने कन्हैया को 10 हजार रुपये का निजी मुचलका जमा करने के लिए कहा. जानकारी के अनुसार कन्हैया की रिहाई कल यानि गुरुवार को हो सकती है.
 
क्या है मामला ?
9 फरवरी को जेएनयू में द ‘कंट्री विदाउट ए पोस्ट ऑफिस’ नाम से एक विरोध मार्च का आयोजन किया गया था. जेएनयू के गंगा ढाबा से शुरू हुए इस विरोध मार्च में आतंकी अफजल गुरु और मकबूल भट की फांसी को न्यायिक हत्या बताया गया. इस दौरान आतंकियों के समर्थन और कश्मीर को भारत से अलग करने की मांग को लेकर नारेबाज़ी की गई.