आगरा. आगरा में विश्व हिंदू परिषद के नेता की शोकसभा में दिए गए भड़काऊ भाषण मामले में नया मोड़ा सामने आया है. इसमें तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है लेकिन इसमें कठेरिया का नाम शामिल नहीं है.
 
जानकारी के अनुसार इन तीन लोगों में अशोक लवानिया, सांसद  प्रशांत चौधरी और पुदनिका शर्मा के खिलाफ आगरा के लोहामंडी थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है. भाषण के दौरान धार्मिक भावनाएं आहत करने को लेकर आईपीसी की धारा 153ए और 295ए के तहत इन लोगों पर केस दर्ज हुआ है.
 
क्या है मामला ?
 
बता दें कि राम शंकर कठेरिया ने शोकसभा में मुस्लिमों के खिलाफ कहा कि हमें अब जंग छेड़नी होगी. बता दें कि विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के कार्यकर्ता अरूण माथुर की बीते गुरूवार हत्या कर दी गयी थी.
 
रविवार को अरूण की शोकसभा में पहुंचे कठेरिया ने मुस्लिमों को धमकी देते हुए कहा कि खून का बदला खून से ही लिया जाएगा. हमें जंग छेड़नी होगी. अगर हमने अभी कुछ नही किया तो हमारे साथियों की इसी तरह हत्या होती रहेंगी.
 
शोकसभा मंच से आग उगल रहें नेताओं ने कहा कि हम अरूण की मौत का बदला जरूर लेंगे. जानकारी के अनुसार शोकसभा में लगभग पांच हजार लोग आए हुए थे. इन लोगों ने मुस्लिमों के खिलाफ नारेबाजी भी की.