नई दिल्ली. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाटियाला हाउस कोर्ट में हुई हिंसा की निंदा करते हुए कहा कि इस मामले में अगर दिल्ली पुलिस के किसी तरह का ‘अन्याय’ हुआ तो कार्रवाई की जाएगी. अदालत परिसर में एक पत्रकार समेत कई पत्रकारों के साथ वकीलों के एक समूह ने मारपीट की थी.
 
राजनाथ ने कहा, “पाटियाला हाउस कोर्ट की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं. विधायक को गिरफ्तार किया गया और जांच चल रही है और जांच पूरी होने दें.”
 
गृह मंत्री ने कहा कि 15 फरवरी को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र नेता कन्हैया कुमार का मामला उठाए जाने के दौरान हुई हिंसा पर उन्होंने तुंरत ही दिल्ली पुलिस के आयुक्त बी. एस. बस्सी से बात की थी.
 
यह और बात है कि इसके दो ही दिन बाद पाटियाला हाउस कोर्ट में हिंसा की फिर घटना हुई थी. राजनाथ ने कहा, “मैंने कहा है कि मामले में कड़ी कार्रवाई की जाए. अगर दिल्ली पुलिस इस मामले में किसी भी प्रकार का अन्याय करते हुए पाई जाती है तो अदालत इस संबंध में उचित कदम उठाएगी. दिल्ली पुलिस राजधानी में कानून-व्यवस्था को बरकरार रखने का हर संभव प्रयास करती है.”
 
बता दें कि बीजेपी के विधायक ओ. पी. शर्मा ने अदालत के बाहर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ता से मारपीट की थी. इसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था और जमानत पर छोड़ दिया गया था.