नई दिल्ली. जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी पर टीएमसी महासचिव सीताराम येचुरी ने तीखा विरोध किया. राज्यसभा में उन्होंने कहा कि दिल्ली के पुलिस कमिश्नर कहते हैं कि जब तक निर्दोष नहीं साबित होते तब तक दोषी हैं और यह कौन सा कानून है?
 
राज्यसभा में अपने भाषण के दौरान येचुरी ने कहा कि आप बताएं देश में क्या हो रहा है साथ ही माहौल इतना बिगड़ गया है कि कोर्ट मे छात्रों की पिटाई हो रही है.
 
देश भक्ति पर बोले येचुरी
 
जेएनयू के छात्रों के साथ हो रहे व्यवहार पर येचुरी ने कहा कि जेएनयू में हमने नारा दिया था, ‘हमारे जिस्म टुकड़े-टुकड़े हो सकते हैं, इस देश के टुकड़े नहीं होने देंगे.’ आज हमारी देशभक्ति पर सवाल उठाया जा रहा है. मैं जेएनयू का छात्र हूं. इस कैबिनेट में मंत्री जेएनयू के छात्र रह चुके हैं. गृहमंत्री से मुलाकात के दौरान मैंने, डी राजा और केसी त्यागी ने कहा था कि किसी मासूम को सजा नहीं मिलनी चाहिए.