नई दिल्ली. रेल मंत्री सुरेश प्रभु संसद में अपना दूसरा रेल बजट पेश करते हुए रेल बढ़े, देश बढ़े का नारा दिया. उन्होंने आगे कहा कि अटल जी के मुताबिक हम ना रुकेंग और ना ही झुकेंगे. इस बीच उन्होंने कई ऐलान किए है जिसमें 2020 तक 95 फीसदी ट्रेनों को समय पर चलाने का लक्ष्य बनाया जा रहा है.
 
बता दें कि इस दौरान वे कई अहम बातों का ऐलान कर रहे हैं जिसमें उन्होंने कहा कि रेलवे को देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ बताया है.
 
मंदी पर जताई चिंता
 
प्रभु ने कहा कि दुनिया भर में आर्थिक मंदी का दौर चल रहा है. इस बीच रेलवे ने 8 हजार 700 करोड़ से ज्यादा की बढ़त की है साथ ही पूंजी खर्च भी बढ़ता जा रहा है. उन्होंने आगे बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस साल 10 फीसदी आय बढ़ने का लक्ष्य तय किया गया है साथ ही इस साल निवेश भी दुगना होगा.
 
किए यह ऐलान 
 
-आम लोगों की सुविधाओं पर दिया जाएगा ध्यान
-सभी वर्गों का रखा जाएगा ध्यान
-2020 तक 95 फीसदी ट्रेन समय पर चलाने का लक्ष्य
-2020 तक जब चाहे तब टिकट का इंतजाम
-रेलवे के सभी पदों के लिए ऑनलाइन भर्ती
-मेक इन इंडिया के तहत 40 हजार करोड़ लगाएगी रेलवे
-हम कमाई के दूसरे साधन पर ध्यान दे रहे हैं