नई दिल्ली. जेएनयू परिसर में देश विरोधी नारे लगाए जाने के विरोध में बीजेपी की युवा इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने मार्च निकाला. यह मार्च दिल्ली के रामलीला मैदान से लेकर जंतर-मंतर तक निकाला गया. कर्नाटक में भी इस प्रकार की रैली निकाली गई है. इस रैली में लोग देश समर्थन के नारे लगा रहे हैं. मार्च में भारी संख्या में छात्र शामिल हैं और देशविरोधी नारों लगाने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. मार्च के दौरान ‘देश के गद्दारों को, गोली मारो सारों को’ जैसे नारे भी लगाए जा रहे हैं.
 
मार्च में 20 करीब हजार लोग हो रहे हैं शामिल 
एबीवीपी के राष्ट्रीय सचिव साकेत बहुगुणा ने बताया कि संसद हमले में शहीद हुए जवानों के लिए हमने मार्च निकाला है. इसके अलावा बहुगुणा ने उम्मीद जताते हुए यह भी कहा कि इसमें करीब 20 हजार लोग शामिल हो रहे हैं.
 
रोहित वेमुला मामले पर कैंडल मार्च
वहीं रोहित वेमुला के मामले पर दिल्ली से लेकर मुंबई तक प्रदर्शनों का दौर देखने को मिल सकता है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जहां दिल्ली में इंडिया गेट पर शाम 5 बजे छात्र कैंडल मार्च निकाला जाऐगा. तो मुंबई में शाम 6 बजे गेटवे ऑफ इंडिया पर कैंडल मार्च निकाला जाएगा.
 
इससे पहले मार्च में पहुंचे थे राहुल-केजरावाल
बता दें कि मंगलवार को रोहित वेमुला के लिए दिल्ली में निकाले गए मार्च में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी पहुंचे थे. जहां राहुल गांधी ने कहा कि सबको अपनी बात कहने का हक है. राहुल ने यह भी कहा था कि देश में बीजेपी-आरएसएस एक सोच थोपना चाहती है.