नई दिल्ली. देशद्रोह के आरोपी जेएनयू के छात्र उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्या ने मंगलवार देर रात दिल्ली पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. पुलिस से हुई पूछताझ में उमर ने ये बात कबूल ली है कि उसने अफजल गुरु के समर्थन में भाषण दिया था. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उमर और अनिर्बान ने पुलिस को यह भी बताया है कि बे इतने दिन तक वे कहां-कहां ठहरे. इसके अलावा यह खबर भी आ रही है कि दोनों पूछताछ में पूरा सहयोग कर रहे हैं.
 
साउथ डिस्ट्रिक्ट की एसटीएफ की टीम उमर और अनिर्बान से पूछताछ कर रही है. इससे पहले उमर और अनिर्बान की मेडिकल जांच के लिए तड़के सुबह 4 बजकर 45 मिनट पर डॉक्टरों की टीम थाने पहुंची थी. करीब एक घंटे तक दोनों छात्रों की मेडिकल जांच की गई.
 
मजिस्ट्रेट के समक्ष आज हो सकते हैं पेश
दोनों आरोपी छात्रों को बुधवार को मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किए जाने की संभावना है. ये छात्र बीती रविवार रात से जेएनयू कैंपस में ही थे. इस मामले में कन्हैया कुमार, खालिद और भट्टाचार्य के अलावा अन्य आरोपी छात्र हैं रामा नागा, आशुतोष कुमार और अनंत प्रकाश. दिल्ली पुलिस ने 20 फरवरी को खालिद, भट्टाचार्य, नागा, आशुतोष और प्रकाश के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया था. 
 
दिल्ली पुलिस का सीक्रेट प्लान
दोनों आरोपियों की पेशी के लिए दिल्ली पुलिस ने एक सीक्रेट प्लान बनाया है, जिसके तहत ही दोनों की पेशी गुप्त कराई जाएगी. पटियाला हाउस कोर्ट में कन्हैया की पेशी के दौरान हुए बवाल को देखते हुए पुलिस सुरक्षा के लिहाज से सतर्कता बरत रही है. दोनों आरोपियों को आज पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा.
 
दिल्ली पुलिस के सवाल
  • जेएनयू में क्या आपने इवेंट की परमिशन ली थी?
  • क्या बोलकर परमिशन ली गई थी?
  • क्या प्रशासन ने आपको कार्यक्रम रद्द करने के लिए कहा था?
  • फरवरी का कार्यक्रम कितने बजे शुरू हुआ था?
  • इस इवेंट के ऑर्गेनिसेर की टीम में कौन-कौन थे। और इनका क्या क्या रोल था?
  • क्या जेएनयू के इस कार्यक्रम में देशविरोधी नारे लगे थे?
  • वो कौन-कौन लोग थे जो देश विरोधी नारे लगा रहे थे?
  • क्या कन्हैया आपके साथ मौजूद था, उसने भी क्या देश विरोधी नारे लगाये थे?
  • अगर देश-विरोधी नारे नहीं लगे तो कौन से नारे लगाए थे?
  • क्या इस प्रोग्राम में बाहर से भी लोग आए थे। किसने बुलाया था इन लोगों ने।
  • क्या देश-विरोधी नारे लगाने के लिए किसी ने कहा था? अगर हां, तो वो कौन लोग थे?
  • इतने दिन आप कहां पर रुके हुए थे? किसने आपकी मदद की?
  • क्या फरारी के दौरान आप लोग एक-दूसरे के संपर्क में थे?
  • आपको फंड किसने किया था?
  • जब आप फरार थे तब पैसों की मदद किसने की?
  • इस इवेंट में उस वक़्त और कौन-कौन लोग मौजूद थे?
  • क्या इससे पहले भी जेएनयू में इस तरह के प्रोग्राम किए गे थे?
  • अगर परमिशन रद्द की गई थी तो फिर क्यों प्रोग्राम किया गया?
 
कौन है उमर खालिद?

उमर खालिद डेमोक्रेटिक स्टूडेंट यूनियन का नेता महाराष्ट्र का रहने वाला है. खालिद ने ही 9 फरवरी को संसद पर हमले के गुनहगार अफजल गुरु की बरसी पर प्रोग्राम करवाया था. प्रोग्राम की इजाजत रद्द होने के बाद जब डेमोक्रेटिक स्टूडेंट यूनियन और लेफ्ट के लोग जेएनयू में मार्च कर रहे थे, तब उमर उनकी अगुवाई कर रहा था. बताया जाता है कि जिस वक्त नारे लग रहे थे उस वक्त उमर न केवल वहां मौजूद था, बल्कि जेएनयू प्रशासन और एबीवीपी के खिलाफ उसने ही नारेबाजी शुरू की थी.  कन्हैया कुमार के साथ भी उसे कई वीडियो में देखा गया. 11 फरवरी को जब एबीवीपी के खिलाफ लेफ्ट के स्टूडेंट्स यूनियन प्रदर्शन कर रही थी, तो उस वक्त उमर और कन्हैया एक साथ थे.