नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईएएस अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि आप लोग ‘सेवा में’ हैं ‘नौकरी में’ नहीं. प्रधानमंत्री ने यह बात 2015 बैच के 181 आईएएस प्रोबेशनरों से कही. इन आईएएस प्रोबेशनरों में से कई ऐसे भी थे जिन्होनें पहले निजी क्षेत्रों में काम किया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि आप लोग पहले नौकरी किया करते थे, लेकिन अब आपको सेवा करनी है. 
 
प्रधानमंत्री ने अधिकारियों से महात्मा गांधी के संदेश को मन में रखते हुए काम करने की नसीहत दी. उन्होनें कहा कि गांधी जी गरीबों का उत्थान चाहते थे, आप लोग भी इसी सिद्धांत पर आगे बढ़िए. कोई भी फैसला लेते वक्त गरीब से गरीब व्यक्ति का ध्यान रखें. ऐसा कोई भी निर्णय न लें जिससे किसी गरीब का नुकसान हो.
 
प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि मोदी ने अधिकारियों को संबोधित करते हुए पूर्वोत्तर के राज्यों का भी जिक्र किया. उन्होनें कहा कि पूर्वोत्तर का विकास बहुत जरूरी है. वहां सम्पर्क और अच्छा करना है, उसके विकास से पूरा देश आगे बढ़ सकता है.
 
मोदी ने अपनी यात्राओं का जिक्र करते हुए बताया कि उनके द्वारा की गई यात्राओं के अनुभव से उन्हें गुजरात के मुख्यमंत्री और देश के प्रधानमंत्री के रूप में काम करने में काफी मदद मिली.