नई दिल्ली. हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी को लेकर हैदराबाद यूनिवर्सिटी समेत कई जगहों से आए छात्रों का दिल्ली में आज मार्च शुरू हो गया है. छात्रों के इस मार्च को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी साथ देंगे. केजरीवाल ने ट्वीट कर इसे समर्थन देने का ऐलान किया है. केजरीवाल ने कहा कि वह जंतर मंतर पहुंचर छात्रों को समर्थन देंगे.
 
जेएनयू के छात्र भी इसमें शामिल होंगे, लेकिन देशविरोधी नारों के आरोपी उमर खालिद, आशुतोष, रियाज, अनिर्बान और रामा नागा मार्च में शामिल नहीं होंगे. इन पांचों पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज है और कैंपस के अंदर ही मौजूद हैं. छात्रों का मार्च सुबह 11 बजे झंडेवालान स्थित अंबेडकर भवन से जंतर मंतर के लिए निकला. 
 
हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्रों के मार्च का जेएनयू स्टूडेंट यूनियन ने भी समर्थन की घोषणा की है. इस मार्च में जेएनयू के छात्र भी बड़ी संख्या में हिस्सा लेंगे. ये मार्च जंतर मंतर पर पहुंचकर सभा का रूप ले लेगा. ये छात्र सरकार से रोहित मामले में कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.
 
साथ ही उसके परिवार को वित्तीय सहायता मुहैया कराने की भी मांग है. इसके अलावा मार्च के जरिए छात्र, सरकार से रोहित वेमुला के नाम एक कानून बनाने की मांग करेंगे, जिसके तहत धर्म और जाति से ऊपर उठते हुए सभी छात्रों के साथ एक समान व्यवहार किया जाना चाहिए.