दिल्ली. देशद्रोह के आरोप का सामना कर रहे कन्हैया कुमार की जमानत याचिका पर मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में सुनवाई होगी. याचिका में कन्हैया ने कहा है कि उनके उपर देश विरोधी नारे लगाने के आरोप गलत है, उन्होनें नारे नहीं लगाए थे. मामले में उन्हें गलत तरीके से फंसाया गया है. 
 
इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को याचिका पर सुनवाई करने से मना कर दिया था, कोर्ट ने पहले हाई कोर्ट में अपील करने को कहा था. कन्हैया की जमानत याचिका मंलवार को सुबह 10 बजकर 30 मिनट में न्यायमूर्ति प्रतिभा रानी के समक्ष पेश की जाएगी. 
 
कन्हैया की जमानत याचिका पर सुनवाई के चलते अदालत की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. क्योंकि इसके पहले जब सुनवाई के लिए कन्हैया को पटियाला कोर्ट में लाया गया था तब वकीलों द्वारा मारपीट हंगामा किया गया था, कन्हैया पर भी हमला हुआ था और पत्रकारों को भी इसका सामना करना पड़ा था.
 
बता दें कि कन्हैया को जेएनयू परिसर में देशविरोधी नारे लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. जिसके बाद पटियाला कोर्ट में सुनवाई के बाद कन्हैया को 3 मार्च तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.