चंडीगढ़. आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे जाट आंदोलन हिंसक होने के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आवास पर एक अहम बैठक बुलाई है. इस बैठक में किरण रिजिजू समेक वित्त मंत्री अरूण जेटली, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी शामिल है. जाट आंदोलन के मुद्दे पर ही राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर के साथ बैठक की थी.
 
 
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पुलिस फायरिंग में हुई चार लोगों की मौत पर दुख जताया है. उन्होंने आंदोलनकारियों से शांति बनाए रखने और कानून अपने हाथ में नहीं लेने की अपील की. राजनाथ ने बातचीत के रास्ते से समाधान निकालने की बात कही. सीएम खट्टर ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील के साथ ही जाटों की सभी मांगों पर गंभीरता से विचार का वादा भी किया. हालांकि, उनकी पेशकश जाट नेताओं ने ठुकरा दी और आंदोलन जारी रखने का फैसला किया है.
 
 
आंदोलनकारियों ने फिलहाल सरकार के किसी भी पेशकश को मानने से इनकार कर दिया है. रोहतक, हिसार, कैथल, जींद, पानीपत, सोनीपत समेत 9 शहरों में सेना ने कमान संभाल ली है. आंदोलनकारियों से समझौते की हरसंभव कोशिश की जा रही है. वहीं हालात बिगड़ने पर शूट एट साइट का आदेश भी दे दिया गया है. हालांकि, कहीं भी इसका असर देखने को नहीं मिल रहा है.