नई दिल्ली. जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने वाले छात्रों से मुलाकात करने के मामले में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ इलाहाबाद के सीजेएम कोर्ट में अर्जी दी गई है. इस अर्जी में राहुल गांधी के ऊपर देशद्रोह का केस दर्ज करने की मांग की गई है.

अर्जी में आरोप लगाया गया है की कांग्रेस उपाध्यक्ष ने देशविरोधी नारे लगाने वाले छात्रों का समर्थन कर खुद राष्ट्रदोही जैसा कृत्य किया है. राहुल गांधी के खिलाफ ये अर्जी इलाहाबाद हाईकोर्ट के वकील और कुछ बीजेपी नेता की तरफ से दाखिल की गई है.

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने से इनकार कर दिया था. 13 फरवरी को राहुल जेएनयू  कैम्पस गए थे, वहां उन्होंने छात्रों के समर्थन में भाषण दिया था. उन्होंने कहा था की भारत में सबको अपनी बात कहने का अधिकार है, ऐसे में यदि कोई आवाज़ दबाने की कोशिश करता है तो वह भी देशद्रोही होगा.

राहुल ने कन्हैया की गिरफ्तारी का भी विरोध किया था. जब राहुल गांधी कैम्पस पहुंचे तब एबीवीपी  के छात्रों ने उनकी गाड़ी रोकी और काले झण्डे दिखाकर ‘राहुल गो बैक’ के नारे लगाए थे.