नई दिल्ली. माकपा महासचिव सीताराम येचुरी को जेएनयू छात्रों के विरोध प्रदर्शन का समर्थन करने के लिए धमकी भरे फोन कॉल मिले हैं. जेएनयू के छात्र, यूनिवर्सिटी छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. 
 
पुलिस उपायुक्त जतिन नरवाल ने कहा कि उन्हें इसे लेकर एक शिकायत मिली है और जांच शुरू कर दी गयी है. हालांकि अब तक कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है. पार्टी सूत्रों ने दावा किया कि पार्टी के मुख्यालय में कल रात साढ़े दस बजे और एक बजे के बीच धमकी भरे तीन कॉल किए गए. 
 
सूत्र के मुताबिक फोन करने वाले जेएनयू मुद्दे के समर्थन को लेकर पार्टी के महासचिव को अपशब्द कह रहे थे. उन्होंने कहा ‘वह जो भी (येचुरी की तरफ संकेत) कर रहे हैं वह सही नहीं है और उन्होंने प्रदर्शनकारी छात्रों का समर्थन करना जारी रखा तो हम उन्हें देख लेंगे.
 
सूत्र ने कहा, ‘‘उन्होंने (फोन कॉल करने वालों) कहा कि वे आम आदमी बलवीर सेना नाम के किसी संगठन से हैं. हमें शक है कि यह वही संगठन है जिसने कल हमारे मुख्य कार्यालय पर हमला किया.’’ वहीं पुलिस को एक ही व्यक्ति के सभी फोन कॉल करने का संदेह है. इस संदर्भ में मंदिर मार्ग पुलिस थाने में एक शिकायत दर्ज कराई.