नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को देशद्रोह और आपराधिक षड्यंत्र के आरोप में 3 दिन की पुलिस रिमांड पर जेल भेज दिया गया था. आज उसकी मियाद खत्म हो रही है. कन्हैया को जेल से दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा.
 
पुलिस ने कन्हैया को 12 फरवरी को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने कन्हैया को कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है. पुलिस ने कोर्ट से पांच दिनों की पुलिस हिरासत मांगी लेकिन कोर्ट ने तीन दिन की पुलिस रिमांड को मंजूरी दी.
 
पुलिस इस बात की जांच करना चाहती है कि कहीं कन्हैया के संबंध देश विरोधी ताकतों के साथ तो नहीं है. पुलिस उसके अन्य छात्र साथियों की गिरफ्तारी के लिए कई स्थानों पर छापे मार रही है. 
 
क्या है मामला?
बता दें कि पुलिस ने देशद्रोह के आरोप में जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया को गिरफ्तार किया है. पुलिस को इस मामले में 7 से 8 लोगों की तलाश है. मंगलवार को जेएनयू परिसर में छात्रों के एक समूह ने एक समारोह आयोजित किया था और संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु को साल 2013 में फांसी दिए जाने के मुद्दे पर सरकार और देश के खिलाफ नारे लगाए थे.