नई दिल्ली. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के एक पूर्व सहायक जवाहर यादव ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्राओं की तुलना वेश्याओं से की है. जवाहर यादव फ़िलहाल हरियाणा हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष हैं.

उन्होंने एक ट्वीट में लिखा था कि वो तवायफ़ बहन बेटियां भी उनसे बेहतर हैं जो मज़बूरीवश अपना शरीर तो बेच देती हैं लेकिन भारत मां को नहीं बेचती हैं. हालांकि बाद में उन्होंने ये ट्वीट डिलीट कर दिया.

जवाहर यादव ने एक अन्य ट्वीट करते हुए अपने बयान को वापस लेते हुए लिखा कि मेरे किए गए ट्वीट के ग़लत भावार्थ निकाले गए. इसलिए मैं अपने बयान को वापिस लेता हूं. मेरा उद्देश्य किसी की भावना को ठेस पहुंचाना नहीं था.

कांग्रेस ने जवाहर यादव के बयान की निंदा करते हुए अपने अधिकारिक अकाउंट से ट्वीट किया है कि ऐसे शर्मनाक बयान की हम कड़े शब्दों में निंदा करते है. एक स्वस्थ लोकतंत्र में ऐसे शब्दों की जगह नहीं हो सकती.