बनारस. 22 फरवरी को काशी में होने जा रहे रविदास जयंती समारोह पर चुनावों को मद्देनजर रखते हुए कई पार्टियां अपने राजनीतिक मंच लगाने की तैयारी में जुट गई हैं. जहां एक तरह पीएम नरेन्द्र मोदी का संत रविदास जयंती समारोह के कार्यक्रम मौजूद होंगे.
 
वहीं दूसरी ओर अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे. जिसे लेकर पार्टी के लोगों ने दिल्ली के मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर तैयारी भी आरंभ कर दी है. दोनों नेता रविदास जयंती के प्रोग्राम में एक साथ स्टेज शेयर भी करेंगे. 
 
बता दें कि मोदी के कार्यक्रम का प्रारंभिक प्रोटोकॉल भी आ चुका है, जिसके अनुसार तैयारी आरंभ हो चुकी है. इसके अलावा मोदी बीएचयू के एक प्रोग्राम में भी शामिल होंगे. यहां उन्हें डॉक्टर ऑफ लॉ की डिग्री दी जाएगी. 
 
यूपी और पंजाब चुनाव की तैयारी
दरअसल, संत रैदास जयंती समारोह में सबसे अधिक अनुयायी पंजाब से आते हैं और संसदीय चुनाव में मोदी लहर के बाद भी आप के चार प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है. ऐसे में अरविंद केजरीवाल को पंजाब में होने वाले चुनाव में अच्छी जीत मिलने की उम्मीद है. इसके साथ ही यूपी में चुनाव लडने की जमीन भी तैयार हो जाएगी. बीजेपी की निगाहें भी दोनों जगहों के चुनाव पर लगी है इसलिए पार्टी अपने स्टार प्रचारक और पीएम मोदी को संत रैदास जयंती के बहाने दलित वोट बैंक को साधने के लिए समारोह में भेज रही है.