नई दिल्ली. गाजियाबाद के वैशाली मेट्रो स्टेशन से निकलकर ऑटो में सवार होने के बाद लापता दीप्ति सरना का पता चल गया है. खुद दीप्ति ने परिवार को फोन कर बताया कि मैं पानीपत में हूं और दिल्ली आ रही हूं. दीप्ति सुबह तकरीबन 8 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंची लेकिन अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि वो पानीपत कैसे पहुंची.
 
इससे पहले, गाजियाबाद पुलिस ने दीप्ति के परिवार को जानकारी देते हुए बताया कि दीप्ति हरियाणा के पानीपत में पूरी तरह सकुशल मौजूद थी. पुलिस ने परिवार वालों से भी दीप्ति की बात भी करवाई थी. हालांकि, उन्होंने कहा कि वह वापस आकर सारी बात बताएगी.
 
गुड़गांव की कंपनी में इंजीनियर युवती की तलाश में गाज़ियाबाद पुलिस के 100 से ज्यादा जवान लगा रखे थे.
 
क्या है पूरा मामला?
ई-कॉमर्स वेबसाइट स्नैपडील की महिला आईटी इंजीनियर दीप्ति सरना गुड़गांव के ऑफिस में काम करती है. रिपोर्ट्स के मुताबिक वह बुधवार को अपने ऑफिस गई थी. ऑफिस के बाद दीप्ति ने वैशाली मेट्रो स्टेशन से अपने घर जाने के लिए ऑटो शेयरिंग किया.
 
दिप्ति का घर वैशाली मेट्रो स्टेशन से आठ किलोमीटर दूर था. दीप्ति ने बुधवार शाम 8:30 बजे अपने घर जाने के लिए ऑफिस से गाजियाबाद कविनगर के लिए ऑटो में बैठी थीं उसमें एक अन्य युवती के अलावा ऑटो ड्राइवर समेत तीन युवक भी सवार थे.
 
दूसरी युवती को बदमाशों ने चाकू की नोंक पर मोहन नगर के पास जबरन उतार दिया था. इसकी जानकारी उसने पुलिस को दी. लड़की ने बताया कि उसके उतरने के बाद दीप्ति वाला ऑटो राजनगर एक्सटेंशन की तरफ मुड़ गया. पुलिस मामले की जांच में जुट गई.