नई दिल्ली. संयुक्त अरब अमीरात( यूएई) के युवराज शेख मोहम्मद-बिन-जायेद-अल-नाहयान बुधवार को तीन दिन की यात्रा पर पहुंच गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर उनका स्वागत एयरपोर्ट पर किया. प्रधानमंत्री ने बाहें फैलाकर उन्हें गले लगाया. युवराज के साथ उनका प्रतिनिधिमंडल भी साथ था. इसमें मंत्री अधिकारी और उद्योग जगह के कई अहम लोग शामिल है. मोहम्मद बिन जायेद की ये पहली भारत यात्रा है और वे मोदी के पिछले साल दिए गए निमंत्रण के बाद आए हैं.
 
भारत पहुंचने के तुरंत बाद उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. 
 

युवराज 12 फरवरी तक भारत में रहेंगे. 12 फरवरी को युवराज मुंबई के लिए रवाना हो जाएगें, जहां वह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में होने वाले कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे और उसी दिन वह यूएई वापस लौट जाएगें. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले साल अगस्त में यूएई की यात्रा पर गये थे जहां उन्होंने भारत के साथ कई अहम समझौते पर सहमति के लिए यूएई को तैयार किया था साथ ही 4.5 लाख करोड़ निवेश के लिए यूएई तैयार किया था. 
 
UAE भारत में करेगा कच्चे तेल का भंडारण
यूएई अपनी तरह के पहले समझौते के तहत भारत की रणनीतिक तेल भंडार सुविधाओं में अपना कच्चा तेल रखने पर सहमत हो गया है. रणनीतिक तेल भंडार में रखे कच्चे तेल में से दो तिहाई तेल भारत को मुफ्त मिलेगा.