नई दिल्ली.  नेशनल डेमोक्रेटिक एलॉयंस (एनडीए) के सहयोगी दल भारतीय जनता पार्टी के रवैए से खुश नहीं है. सूत्रों के अनुसार अकाली दल, तेलगु देशम पार्टी और शिवसेना ने सोमवार को एनडीए मीटिंग में अपनी नाराजगी जाहिर कर दी.
 
सूत्रों के मुताबिक अकाली दल, टीडीपी और शिवसेना के नेताओं ने बैठक में कहा कि मोदी सरकार अपने सहयोगी दलों को तवज्जो नहीं देती. इन पार्टियों का कहना है कि बीजेपी का अपने सहयोगियों के साथ संवादहीनता के हालात हैं.
 
सहयोगी दलों से सहमति नहीं ली जाती
 
नाराज़ पार्टियों का कहना है कि कई मुद्दों पर सहमति बनाने की कोशिश तक नहीं की जाती. इनका कहना है कि उनसे चर्चा तक नहीं की जाती और फैसले हो जाते हैं.
 
सहयोगी दलों के नेताओं ने यहां तक कहा कि उनके सांसदों को भी सरकार की योजनाओं के बारे में सही से जानकारी नही दी जाती है ताकि वो सरकार के काम का प्रचार कर सकें.