सियाचिन. सियाचिन में छह दिन पहले हिमस्खलन के बाद 25 फुट बर्फ के नीचे दबे जवानों में से लांस नायक हनमन थापा को बचाव टीम की तमाम कोशिशों के बाद आश्चर्यजनक रूप से जिंदा निकाल लिया गया है. हालांकि थापा की हालत अभी गंभीर बनी हुई है.

उत्तरी सैन्य कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डी.एस. हुडा ने कहा कि यह एक चमत्कार है. लांस नायक हनमन थापा को सैनिक अस्पताल में सुबह भर्ती कराया गया है. उन्हें बचाने के सभी प्रयास किए जा रहे हैं.

उन्होंने आगे कहा कि अब तक पांच शव बरामद हुए हैं जिनमें से चार की पहचान की जा चुकी है. बाकी जवानों का हमें अब तक कोई पता नहीं चल पाया है. उन्होंने उम्मीद जताई कि कर्नाटक निवासी थापा की तरह ही अन्य जवान भी चमत्कारिक रूप से बच जाएंगे.

बता दें कि मद्रास रेजिमेंट के एक जेसीओ और नौ अन्य जवान पाकिस्तान से लगे नियंत्रण रेखा के पास करीब साढ़े 19000 फुट की ऊंचाई पर बर्फ में उस समय दब गए थे जब उनकी चौकी इस हिमस्खलन में तबाह हो गयी थी. उस समय यहां का तापमान शून्य से 45 डिग्री कम था.