नई दिल्ली. एमसीडी कर्मचारियों की हड़ताल का आज दसवां दिन है. हड़ताली कर्मचारी दिल्ली के उप-राज्यपाल नजीब जंग से भी मिलेंगे. सूत्रों की मानें तो ऐसी खबर मिल रही है कि उप-राज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात के बाद एमसीडी कर्मचारी अपनी हड़ताल खत्म कर सकते हैं.
 
आज यहां कर रहे हैं प्रदर्शन
एमसीडी कर्मचारी शुक्रवार को दिल्ली के गाजीपुर इलाके में प्रदर्शन करने रहे हैं. एमसीडी के डॉक्टर, इंजीनियर और दूसरे स्टाफ सिविक सेंटर से राजघाट तक विरोध मार्च भी निकाल रहे हैं. इसके अलावा बीते 2 दिन में जमा हुए भीख के पैसों के दो ड्राफ्ट बनाएंगे. एक CM केजरीवाल को देंगे और दूसरा PM नरेंद्र मोदी को भेजेंगे.
 
मेयरों से बातचीत बेनतीजा
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को ही एमसीडी के तीनों मेयरों के बात की थी. इसके बाद उपराज्यपाल नजीब जंग से भी मुलाकात की. लेकिन यह सारी कवायद बेनतीजा रही. मेयरों ने दिल्ली सरकार से तत्काल 307 करोड़ रुपये की मांग की है. इस पर सिसोदिया ने केजरीवाल से चर्चा करने की बात कही है. इससे पहले केजरीवाल ने कहा था कि सरकार एमसीडी कर्मयिों को 31 जनवरी तक की सैलरी देगी.
 
स्थायी हल चाहते हैं कर्मचारी
दो दिन पहले ही दिल्ली सरकार ने एमसीडी के लिए 551 करोड़ रुपये के कर्ज का ऐलान किया था. बावजूद इसके हड़ताल वापस नहीं ली गई. एमसीडी कर्मचारी समस्या का स्थायी हल चाहते हैं.
 
हड़ताल में तीनों एमसीडी के सफाईकर्मी, डॉक्टर और शिक्षक शामिल हैं, जिसकी वजह से शहर में कूड़े के ढेर के अलावा अस्पतालों और स्कूलों में भी व्यवस्था चरमरा गई है. एमसीडी कर्मचारी वेतन-भत्ते समेत कई मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं.