नई दिल्ली. रामसेतू मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्पहमण्यम स्वामी की उस याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया है जिसमें उन्होंने रामसेतु के मामले में कोर्ट से जल्द सुनवाई की गुहार लगाई थी.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर कोई रामसेतू से छेड़खानी करता है तो वह जरूर इस पर तुरंत सुनवाई करेंगे. कोर्ट ने कहा कि फिलहाल इस मामले में जल्द सुनवाई करने की जरूरत नहीं है.

कोर्ट ने कहा है कि पहले केंद्र सरकार को इस मामले में अपना जवाब दाखिल करने दिया जाए. स्वामी ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि केंद्र सरकार रामसेतू को बनाए रखेगी और इसे सम्पत्ति घोषित किया जाए. इस मामले में केंद्र पहले ही 6 हफ्ते का वक्त मांग चुका है.