आगरा. ताजमहल के भीतर 500 मीटर के दायरे में तीन सड़कों का निर्माण अब सेंड स्टोन यानि बलुआ पत्थर से होगा. सुप्रीम कोर्ट ने इस पर मुहर लगा दी है और उत्तर प्रदेश सरकार को इस मेटीरियल से ही रोड़ बनाने के निर्देश दिए है. 
 
जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार ने पहले ग्रेनाइड से सड़क बनाना चाहती थी लेकिन एएसआई के मना करने के बाद सेंड स्टोन से सड़क बनाने पर सहमति बन गई थी.
 
एएसआई ने कहा था की ग्रेनाइड मुग़लकाल के इमारतों से मेल नहीं खाता इस लिए सेंड स्टोन से निर्माण काम हो.