अगरतला. मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि केंद्र सरकार गरीबों को और गरीब तथा अमीरों को और अमीर बनाने वाली आर्थिक नीतियों पर चल रही है. 
 
येचुरी ने एक सेमिनार में कहा, ‘भाजपानीत केंद्र सरकार सांप्रदायिक राजनीति को आगे बढ़ा रही है. ऐसी जनविरोधी आर्थिक नीतियां अपना रही हैं जो गरीबों को और गरीब तथा अमीरों को और अमीर बना रही हैं.’
 
सेमिनार त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री दशरथ देब से संबद्ध शताब्दी समारोह के तहत आयोजित हुआ. देब ने त्रिपुरा में कम्युनिस्ट आंदोलन की बुनियाद रखी थी. येचुरी ने कहा कि भाजपा सरकार देश का इतिहास बदलने के लिए वोट बैंक की घटिया राजनीति कर रही है. वह लोगों के बीच के संबंधों को तबाह कर रही है.
 
उन्होंने कहा, “कई बार कहे जाने के बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में सांप्रदायिक हमलों को तथा नफरत फैलाने वाली गतिविधियों को रोकने का कोई आश्वासन नहीं दिया.”
 
येचुरी ने कहा कि मोदी सरकार के अस्तित्व में आने के बाद से देश में हर क्षेत्र में विकास दर गिरी है. इससे रोजगार के अवसरों पर बुरा असर पड़ा है.