श्रीनगर. पाकिस्तान ने पहली बार माना है कि उनका देश कश्मीर में आतंक को बढ़ावा देता है. पाक संसद की कमेटी रिपोर्ट का कहना है कि उनका देश कश्मीर में आतंक का समर्थन करता है.
 
इस मुद्दे पर कमेटी ने कहा है कि उनकी सरकार को कश्मीर में आतंकी गतिविधियों पर सपोर्ट करना बंद कर देना चाहिए. साथ ही देश कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ गंभीर भी नहीं है.
 
दुनिया भर में देश की छवि की चिंता करते हुए कमेटी ने कहा कि पाक के कोई एक्शन ने लेने की वजह से इंटरनेशनल कम्युनिटी में देश का भरोसा कम हो रहा है.
 
कमेटी ने भारत-पाक रिश्ते मुद्दे के साथ-साथ कश्मीर, वॉटर डिस्ट्रीब्यूशन जैसे मुद्दों पर भी जिक्र किया.  रिपोर्ट के मुताबिक, “पाकिस्तान को कश्मीर में हथियारबंद और बैन किए जा चुके आतंकियों को सपोर्ट देना बंद करना चाहिए.”
 
बता दें कि इस रिपोर्ट को भारत-पाक के सचिवों के बीच होने वाली वार्ता से भा जोड़ा जा रहा है. पठानकोट हमले की वजह से दोनों देशों के बीच 15-16 जनवरी को होने वाली वार्ता टल गई थी. लेकिन इस बार 6-7 फरवरी को वार्ता होने के आसार लगाए जा रहे हैं.