मुंबई. हाल ही में पद्म सम्मान से नवाज़े गए बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर को पाकिस्तान ने वीजा देने से इनकार कर दिया है. अनुपम खेर को पाकिस्तान में कराची लिटरेचर फेस्टिवल में शामिल होना था.

वीजा ना मिलने के बाद अनुपम खेर ने ट्विटर पर लिखा है ‘सच की अवाज ज्यादा देर तक नहीं दबती मेरे दोस्त. जय हो. बता दें कि पाकिस्तान नें 18 लोगों में से 17 लोगों को वीजा दे दिया है लेकिन इसमें अनुपम खेर का नाम नहीं है.

अनुपम खेर ने एक अन्य ट्वीट में कहा ‘ वीजा में देरी इनकार करने का ही तरीका है’

वीज़ा देने से इनकार किए जाने पर अनुपम खेर ने कहा है कि ‘मैं वीज़ा नहीं मिलने से बहुत हैरान हूं. लिट्रेचर फेस्टिवल में 18 लोगों को जाना है जिसमें से 17 लोगों को वीज़ा दिया गया लेकिन मुझे वीज़ा नहीं दिया गया.

अनुपम खेर ने कहा ‘हम उनके कलाकारों का भारत में स्वागत करते हैं. अगर भारत में एक जगह पर उनकी प्रस्तुति पर आपत्तियां होती है तो दूसरे जगह उनका स्वागत होता है. लेकिन यह पारस्परिक नहीं है.

खेर ने कहा ‘काश मैं जान पाता. मैं सोच रहा हूं कि क्या यह मेरे कश्मीरी पंडित होने या भारत में सहिष्णुता पर बहस में मेरे विचारों के कारण हुआ है. खेर ने बताया कि वीजा नहीं मिलने के कारण महोत्सव के आयोजकों को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा और उन्होंने खेद भी जताया है.

वहीं इस मामले पर पाक उच्चायुक्त ने कहा है कि ‘अनुपम खेर ने वीज़ा के लिए अर्ज़ी ही नहीं दी थी. उनसे पूछिए क्या उनके पास कोई रसीद है. बताया जा रहा है कि 2015 में भी अनुपम को पाकिस्तान ने वीज़ा देने से इंकार कर दिया था.