रामपुर. सपा के पूर्व नेता अमर सिंह को लेकर सपा मुखिया मुलायम सिंह के बयान पर कैबिनेट मंत्री मोहम्मद आजम खां ने कहा कि नेताजी सर्वेसर्वा हैं, जिसे चाहें पार्टी में ले लें और जिसे चाहें निकाल दें. यह उनका अधिकार है. दो दिन पूर्व ही एक कार्यक्रम में मुलायम सिंह ने कहा था कि अमर सिंह उनके दिल में हैं. शनिवार को रामपुर में जब आजम खां से मुलायम के अमर प्रेम पर सवाल किया तो आजम खां ने बड़े सधे लहजे में जवाब दिया.
 
आजम खां ने कहा, “दिल का मामला दिलवाले पर होता है. जिसका दिल है वही दिलवाला है. दिलवाले अपने दिल में किसे रखते हैं किसे निकालते हैं यह तो उन्हें ही तय करना है, हमें तो तय नहीं करना है. नेताजी सर्वे सर्वा हैं, जिसको चाहे ले सकते हैं. जिसको चाहें निकाल सकते हैं, उनका अधिकार है.”
 
मुलायम ने क्या कहा था?
अमर के जन्मदिन पर मुलायम ने कहा था कि अमर सिंह को पार्टी से निकाला नहीं गया था. ये गलत है. अमर सिंह भले ही पार्टी में न हों, लेकिन वह हमेशा दिल में रहते हैं.
 
अमर सिंह भी साध चुके हैं निशाना
अमर ने कहा था कि सपा के एक कद्दावर नेता की वजह से उन्हें पार्टी से बाहर किया गया. अमर सिंह ने बीते दिनों कहा था कि उन्हें आजम खान से खतरा है.