नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दुनियाभर में जब एफडीआई घट रहा है, मगर भारत में विगत 18 महीने में 39 फीसदी से अधिक एफडीआई आया है. मोदी ने इकनॉमिक टाइम्स वैश्विक व्यापार सम्मेलन में कहा, “गत 18 महीने में देश में 39 फीसदी अधिक एफडीआई आया, जबकि वैश्विक स्तर पर एफडीआई में गिरावट दर्ज की गई है.” 
 
उन्होंने साथ ही कहा कि अभी वैश्विक अर्थव्यवस्था अनिश्चितता के दौर से गुजर रही है.
 
देश में सुधार को आम आदमी के कल्याण से जोड़े जाने को उचित ठहराते हुए उन्होंने कहा, “वास्तविक सुधार वे हैं, जिनसे आम आदमी का जीवनस्तर सुधरे. मेरा लक्ष्य सुधार से बदलाव लाना है. किसी भी सुधार का सर्वाधिक लाभ गरीबों को मिलना चाहिए.”
 
देश के विकास के लिए देश के नागरिकों के लिए नए अवसर तैयार करने की महत्ता बताते हुए उन्होंने कहा, “नए अवसर महत्वाकांक्षी नागरिकों के लिए ऑक्सीजन के समान होते हैं.”
 
IANS