नई दिल्ली. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार रात दिल्ली में हजरत निजामुद्दीन के दर पर पहुंचे. वहां आजकल निजामुद्दीन औलिया का सालाना उर्स चल रहा है. राहुल ने औलिया की मजार पर चादर और फूल चढ़ाकर दुआ मांगी. वह वहां कुछ समय तक बैठे भी रहे.
 
राहुल गांधी सबसे पहले उर्स महल गए जहां कव्वाली का कार्यक्रम चल रहा था. ख्वाजा सईद अहमद निजामी समेत कई लोगों के साथ राहुल मंच पर बैठे और कव्वाली सुनी. उर्स महल में राहुल के सिर पर हरे रंग का साफा बांधा गया और गले में गुलाबी रंग का ये दुपट्टा डाला गया. इसके बाद राहुल हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह की ओर निकले. राहुल ने दरगाह पर चादर और फूल चढ़ाकर दुआ मांगी.
 
राहुल गांधी ने इसकी तस्वीर भी सोशल मीडिया में शेयर की है.
 
राहुल ने अपने लिए क्या कुछ मांगा ये तो नहीं मालूम. लेकिन खादिम की जुबां से राहुल की कामयाबी और प्रधानमंत्री बनने की दुआ निकली. निजामुद्दीन औलिया की दरगाह पर राहुल करीब 30 मिनट तक रहे. इस दौरान उन्हें देखने के लिए भीड़ भी जुटी. लौटते वक्त राहुल ने लोगों की तरफ हाथ हिलाया.
 
30 जनवरी तक चलने वाले 712वें उर्स का आगाज बुधवार से हुआ है. इसमें शामिल होने के लिए पाकिस्तान समेत कई देशों से लोग यहां पहुंचे हैं. उर्स को लेकर दरगाह को विशेष तौर पर सजाया गया है.