नई दिल्ली. पठानकोट एयरबेस पर आतंकवादी हमला और उसके बाद दर्जनभर आतंकवादियों की गिरफ्तारी को देखते हुए गणतंत्र दिवस पर राजधानी दिल्ली की सुरक्षा अभेद्य किले में तब्दील कर दी गई है. इसके लिए 1000 निशानेबाजों के साथ ही 49 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है. इसके साथ ही प्रमुख स्थलों पर 15 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. इस बार फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि हैं.
 
इमारतों पर तैनात रहेंगे सुरक्षा गार्ड
राजपथ इलाके के दो किलोमीटर दायरे में किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के निशानेबाज ऊंची इमारतों पर तैनात रहेंगे. राजपथ पर होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह में फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद रहेंगे.
 
49 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती
पुलिस ने कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर 49 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है, जिसमें 15 हजार अर्धसैनिक बल, 34 हजार दिल्ली पुलिस के जवान दिल्ली की सड़कों पर 26 जनवरी को सुबह पांच बजे से तैनात रहेंगे. सूत्रों ने कहा कि मध्य, उत्तरी और नई दिल्ली जिले में 20 हजार सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे.
 
यातायात तीन बजे तक बंद रहेगा
26 जनवरी को परेड सुबह 9.30 बजे शुरू होगा और 12.30 बजे खत्म होगा. विजय चौक से इंडिया गेट के बीच यातायात सोमवार अपराह्न तीन बजे बंद कर दिया जाएगा, जो मंगलवार को परेड समाप्त होने तक बंद रहेगा. इसके अलावा रफी मार्ग, जनपथ, मान सिंह रोड पर यातायात सोमवार रात 11 बजे से लेकर परेड समाप्त होने तक बंद रहेगा. 
 
15 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाए गए
फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के दिल्ली आगमन के मद्देनजर करीब 20 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती रविवार से ही कर दी गई है. ओलांद रविवार से भारत के तीन दिवसीय दौरे पर हैं. करीब 15 हजार सीसीटीवी कैमरे परेड स्थल पर स्थापित किए गए हैं. रायसीना हिल के विजय चौक से लेकर लालकिले तक यह व्यवस्था की गई है. इस मार्ग में राजपथ, इंडिया गेट, तिलक मार्ग, बहादुरशाह जफर मार्ग और नेताजी सुभाष मार्ग शामिल होंगे. 
 
300 किमी नो फ्लाई जोन घोषित
इसके अलावा साउथ एवेन्यू, त्यागराज मार्ग, के. कामराज मार्ग, सुनहरी मस्जिद, मौलाना आजाद रोड, अकबर रोड, मान सिंह रोड, सी-हेक्सागन, राजेंद्र प्रसाद रोड, रेडक्रास रोड, संसद मार्ग, इम्तियाज खान रोड, रकाब गंज रोड, पंत मार्ग और चर्च रोड पर भी यातायात प्रतिबंध रहेगा. शहर के 300 किलोमीटर दायरे को नो फ्लाई जोन घोषित किया जाएगा. शहर के आसमान की विशेष राडार से निगरानी की जाएगी. ओलांद, मुखर्जी और मोदी को सात स्तरीय सुरक्षा घेरा प्रदान किया जाएगा, ताकि परिंदा भी पर नहीं मार सके. 
 
मेट्रो यथावत रहेंगी
दिल्ली मेट्रो की सेवाएं 26 जनवरी को सभी स्टेशनों पर यथावत रहेंगी. केवल पटेल चौक, रेसकोर्स पर प्रवेश और निकास सुबह 8.45 से लेकर 12.30 बजे तक बंद रहेगा. इसी तरह केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन स्टेशन सुबह छह बजे से दोपहर 12 बजे तक बंद रहेंगी.