रोहतक. राष्ट्रीयस्वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार ने राम मंदिर के मुद्दे पर कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद, समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान और एमआईएम के नेता असदउद्दीन औवेसी पर निशाना साधा है.

इंद्रेश ने कहा है कि खुर्शीद, आजम खान और औवेसी के पूर्वजों के ईष्ट राम थे, इसलिए उन्हें अपराधबोध से मुक्त होने के लिए राम मंदिर के निर्माण के लिए आगे आना चाहिए. यह एक मनुष्य का मंदिर नहीं है, बल्कि दुनिया भर के 718 करोड़ लोगों को सोचना चाहिए.

मंदिर की जगह धर्मशाला बनाने के सुझाव पर इंद्रेश कुमार ने कहा कि यह बकवास सुझाव है और अमानवीय है. इंद्रेश कुमार रोहतक के पीजीआई में डेंटल कॉलेज के सभागार में रविवार को एक विचार गोष्ठी में बतौर मुख्य वक्ता के तौर पर भाग लेने पहुंचे थे.

विचार गोष्ठी का विषय-विभिन्न सामाजिक विषमताएं और समाधान था. वरिष्ठ आरएसएस नेता ने हिंदुओं को सर्वश्रेष्ठ बताया. उन्होंने कहा कि हिंदू से बड़ा कोई सेक्युलर नहीं है. हिंदू सेक्युलर हैं, इसीलिए हर धार्मिक स्थलों पर जाता है, जबकि अन्य कई संप्रदाय के लोग हिंदुओं के धार्मिक स्थलों पर नहीं जाते है.