कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को उनकी जयंती पर भावभीनी श्रद्धांजलि दी. इस मौके पर आयोजित एक समारोह में बनर्जी ने कहा कि नेताजी को राष्ट्र नेता का दर्जा दिया जाना चाहिए. वे इस सम्मान को पाने के सच्चे हकदार हैं.

बनर्जी ने कहा कि बोस के रहस्यमय ढंग से लापता होने की सच्चाई जानने का देश को पूरा हक है. नेताजी की 119वीं जयंती पर आयोजित समारोह में बनर्जी ने कहा कि राष्ट्र को नेताजी की नियति के बारे में जानने का अधिकार है.

ममता ने कहा कि 75 साल पहले नेताजी ने देश छोड़ा था लेकिन अब भी हम उनके लापता होने के बारे में तथ्य नहीं जानते हैं, लोगों को सच जानने का अधिकार है. उन्होंने कहा कि नेताजी के सच से राष्ट्र की भावी पीढ़ी को अवगत कराने का यह सरकार का नैतिक दायित्व है.

उन्होंने कहा कि हम उन फाइलों को देखना चाहते हैं जो नेताजी के लापता होने के बारे में प्रकाश डालेंगी. नेताजी के लापता होने के बारे में सच दस्तावेजों और सबूतों के माध्यम से सामने आना चाहिए.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नेताजी से जुड़ी 100 फाइलों को सार्वजनिक कर दिया है. इन फाइलों को देखने के लिए भारत सरकार ने netajipapers.gov.in  के नाम से एक डिजिटल वर्जन भी बनाया है. सरकार हर महीने 25 फाइलें सार्वजनिक करेगी.