हैदराबाद. दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या के मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य संजय पासवान ने कहा है कि छात्र रोहित के सुसाइड को गंभीरता से लें या विद्रोह के लिए तैयार रहें.

हैदराबाद के छात्र रोहित की आत्महत्या के मामले में उन्होंने अपनी पार्टी का नाम लिए बिना, ट्वीट किया “सत्ता की राजनीति के भागीदारों को रोहित वेमुला प्रकरण को गंभीरता से लेना चाहिए या फिर विरोध, बदला, विद्रोह और प्रतिक्रियाओं के लिए तैयार रहना चाहिए.”

संजय पासवान ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बयान देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि राजनेता दलितों को सिर्फ वोट बैंक मानने की गलती ना करें. बता दें कि संजय पासवान ने 2014 के चुनावों में पार्टी के अनुसूचित जाति मोर्चे की कमान संभाली थी.