नई दिल्ली. डीडीसीए पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और बीजेपी सांसद कीर्ति आजाद को हाईकोर्ट ने डीडीसीए की याचिका पर सुनवाई करते हुए नोटिस जारी किया है और दोनों नेताओं से 2 मार्च तक जवाब मांगा है.

डीडीसीए ने लगाए केजरीवाल-कीर्ति पर आरोप

डीडीसीए ने केजरीवाल और आजाद से मानहानि क्षतिपूर्ति के रूप में ढाई करोड़ रुपये की मांग की है. याचिका में आरोप लगाए गए हैं कि केजरीवाल और आजाद ने डीडीसीए की कार्यप्रणाली और आर्थिक लेनदेन पर आपत्तिजनक बयानबाजी की है, जिससे डीडीसीए की छवि खराब हुई है.

जेटली ने भी किया मानहानि का केस

वहीं इस मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी दिल्ली हाईकोर्ट और पटियाला हाउस कोर्ट में दीवानी और आपराधिक मानहानि की याचिका दायर की है. उन्होंने अपनी याचिका में सीएम केजरीवाल सहित आम आदमी पार्टी के पांच नेताओं पर झूठी बयानबाजी कर उनकी और उनके परिवार की छवि खराब करने का आरोप लगाया है.