नई दिल्ली. पाकिस्तान के साथ विदेश सचिव स्तर की वार्ता पर आज शाम फैसला हो जाएगा. शाम को विदेश मंत्रालय की प्रेस कॉंफ्रेंस में इस फैसले पर मुहर लग सकती है.

वहीं जैश के सरगना मौलाना मसूद अजहर को हिरासत में लिए जाने पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा है कि अजहर को हिरासत में लिए जाने की भारत सरकार को आधिकारिक सूचना नहीं मिली है. उनका कहना है कि यह खबर पाकिस्तानी मीडिया में प्लांट भी कराई गई हो सकती है.

उनका कहना है कि भारत अभी जो भी फैसला लेगा उसे मसूद की कथित हिरासत के मामले से जोड़ कर देखा जाएगा. यह भी कहा जा सकता है कि भारत ने मसूद की गिरफ्तारी की कोई शर्त रखी हो सकती है. जबकि इस मामले में भारत सरकार का रुख पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के बयान के आधार पर तय होगा.

पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ से कहा था कि वह पठानकोट मामले में दिए गए सबूतों के आधार पर निर्णायक कार्रवाई करें. शरीफ ने इस मामले में शीर्ष खुफिया, सैन्य और सरकारी अफसरों की एक टीम बनाई है.