नई दिल्ली. अमेरिका ने कहा कि मुंबई हमला मामले में भारत को न्याय दिलाने में मदद करने के लिए वाशिंगटन पाकिस्तान पर दबाव बनाता रहेगा. अमेरिकी नागरिक सुरक्षा सहायक मंत्री, साराह बी. सेवाल ने कहा, “हम पाकिस्तान पर लगातार दबाव बनाते रहेंगे कि वह सीमांत क्षेत्र में सभी आतंकवादी नेटवर्क से निपटे और मुंबई हमले के मामले में न्याय हासिल करने में भारत की हरसंभव मदद करे.”
 
सेवाल ने कहा, “साझेदार के रूप में, हम साझे संघर्षो से उबरने में एक-दूसरे की मदद करते हैं और कड़वी सच्चाई का सामना करते हैं.”
 
बता दें कि पाकिस्तान से आए 10 आतंकवादियों ने नवंबर 2008 में मुंबई में घुसकर भयानक नरसंहार को अंजाम दिया था, जिसमें कुल 166 भारतीय व विदेशी नागरिक मारे गए थे. नौ आतंकवादियों को मार गिराया गया था और एक को जिंदा पकड़ लिया गया था, जिसे बाद में कानूनी प्रक्रिया के तहत फांसी पर लटका दिया गया था.
 
सेवाल ने कहा, “आतंकवाद की साझी पीड़ा ने भी भारत और अमेरिका को एक किया है. हम मानते हैं कि आतंकवाद बार-बार भारत के दर पर दस्तक दे रहा है.”