चेन्नई. केंद्र सरकार ने कुछ दिन पहले तमिलनाडु में खेल जल्लीकट्टू से प्रतिबंध हटा दिया था जिसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है. बता दें कि फैसले के खिलाफ कल सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की जाएगी.
 
रिपोर्ट के मुताबिक पोगंल त्यौहार के दौरान खेले जाने वाले इस खेल की याचिका को चीफ जस्टिस तीर्थ सिंह ठाकुर की बेंच के सामने रखा गया है. टीएस ठाकुर मामले की सुनवाई करने के लिए राजी हो गए है.
 
इस याचिका को भारतीय पशु कल्याण बोर्ड(पेटा) और एक बेंगलुरु के एनजीओ ने सुप्रीम कोर्ट में दर्ज किया है. पेटा के मुताबिक यह खेल बेहद खतरनाक है साथ ही पशु अधिकार के खिलाफ भी आता है.  
 
बता दें कि जल्लीकट्टू पर चार से लगे प्रतिबंध को केंद्र सरकार ने हटाया है. हालांकि केंद्र ने प्रतिबंध हटाने के साथ कई शर्ते भी रखी है. तमिलनाडु में बहुत जल्द चुनाव होने वाले हैं इसलिए पशु अधिकार संगठन के कड़े विरोध के बावजूद इस प्रतिबंध को हटाए जाने के फैसलों को काफी अहम माना जा रहा है.
 
क्या है जल्लीकट्टू
 
तमिलनाडु में पोंगल त्यौहार के ठीक एक दिन पहले यह खेल खेला जाता है जिसमें परंपरागत तरीके से सांड को काबू में किया जाता है.