नई दिल्ली. केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री रामविलास पासवान ने भारत-पाकिस्तान के रिश्तों पर एक विवादित बयान दिया है. उन्होंने पाकिस्तान के साथ हमदर्दी जताते हुए, आतंकवाद के मुद्दे पर क्लीन चिट दी है. पासवान के मुताबिक पाक खुद आतंकवाद का भुक्तभोगी है, अगर वो इसका समर्थन करते तो उनके यहां आतंकी हमले क्यों होते. उन्होंने ये बात भारत-पाक के बीच बातचीत की तरफदारी करते हुए की. 
 
रामविलास पासवान ने कहा, ”अगर कोई भी लोहिया के समर्थन वाले पुराना व्यक्ति हैं तो वो तीन चीजें जरूर कहेगा. पहली भारत-पाकिस्तान में दोस्ती हो. दूसरी दोनों देशों में व्यापार का रास्ता खुले. तीसरा दोनों देशों की एक करेंसी हो. हमारी पार्टी पाकिस्तान से बातचीत का समर्थन करती है. 
 
उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान में जो आतंकावाद की घटना घट रहीं है, वो केवल हमारे ही देश के लिए ही तो नहीं है, वो लोग खुद अपने देश में आतंक फैला रहे हैं. हमारे देश से ज्यादा लोग पाकिस्तान में मारे जा रहे हैं.
 
उन्होंने कहा, ”पाक पीएम नवाज शरीफ के हाथ में अगर आतंकवाद को कंट्रोल करने का रिमोट होता तो वो अपने यहां क्यों आतंकवाद फैलाते. क्यों निर्दोष लोगों की जानें गवांते.”