नई दिल्ली. मनीष तिवारी की तरफ से केंद्रीय मंत्री और पूर्व सेना प्रमुख वीके सिंह पर आरोप लगाने के बाद सिंह ने पलटवार करते हुए कहा है कि तिवारी को कुछ काम-धाम नहीं है.

वी के सिंह ने 2012 की इस रिपोर्ट को पूरी तरह खारिज करते हुए तिवारी की टिप्पणी पर कहा कि उन्हें इन दिनों कुछ कामकाज नहीं है. उन्हें मेरी किताब पढ़ लेनी चाहिए, उससे सब साफ हो जाएगा.

मनीष ने लगाए सिंह पर आरोप

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा है कि साल 2012 में फौज की टुकड़ी के दिल्ली कूच करने की खबर सही थी.

एक बुक लॉन्च के दौरान जब तिवारी से 2012 में एक अंग्रेजी अखबार की खबर के सच के बारे में सवाल किया तो उन्होंने जवाब दिया कि उस समय मैं रक्षा मंत्रालय की स्टैंडिंग कमिटी का सदस्य था. दुर्भाग्यवश वह खबर सही थी. ऐसा वाकई हुआ था. उस समय विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह थल सेना अध्यक्ष थे.

क्या है मामला

अंग्रेजी अखबार ने खुलासा किया था कि 16 जनवरी 2012 की रात को इंडियन आर्मी की 2 टुकड़ी दिल्ली की ओर बढ़ रही थी. इनमें से एक हिसार में तैनात इन्फैंट्री यूनिट थी और दूसरी आगरा में मौजूद 50 पारा ब्रिगेड थी. उस वक्त सरकार ने ऐसी खबरों को खारिज किया था और तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि अगर ऐसा है तो यह गंभीर मसला है.