नई दिल्ली. रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने माना है कि सुरक्षा में हुई चूक की वजह से पठानकोट आतंकी हमला हुआ. प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए उन्होंने ने कहा कि सुरक्षा में हुई चूक को लेकर बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स( BSF) से जवाब मांगा गया है. 
 
पठानकोट मे चल रहे ऑपरेशन को लेकर पर्रिकर ने बताया कि आतंकियों के पास से 40-50 किलो गोलियों, एके-47, मोर्टार्स बरामद किए गए. आतंकवादियों के पास से बरामद सामग्री में कुछ पाकिस्तान के होने के संकेत हैं. एनआईए इस पूरे मामले की जांच कर रहा है.
 
रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बताया कि जांच अभियान चालू है, वह अभी खत्म हुआ नहीं है. उम्मीद है कल तक जांच अभियान पूरा हो जाएगा. आतंकियों की लाश काफी जल चुकी है उनकी डीएनए जांच करेंगे.
 
शहीदों के परिजनों को मिलेगा मुआवजा
 
पर्रिकर ने बताया कि पठानकोट आतंकी हमले में मार गए शहीदों के परिजनों को 25-25 लाख का मुआवजा दिया जाएगा. साथ ही परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी दी जाएगी.