नई दिल्ली. दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए दिल्ली सरकार की तरफ से चलाई गई ऑड-ईवन योजना का समर्थन करते हुए CJI टीएस ठाकुर, जस्टिस एके सीकरी के साथ कार पूल कर रहे हैं.

नियमों के तहत सोमवार को CJI जस्टिस सीकरी की ईवन नंबर की कार में आए तो मंगलवार को जस्टिस सीकरी, जस्टिस ठाकुर की ऑड नंबर में दिखे. जस्टिस सीकरी सोमवार दोपहर चीफ जस्टिस को वापस ले जाना भूल गए थे, लेकिन रास्ते से वापस आकर वो चीफ जस्टिस को लेकर गए.

इस योजना में स्वेच्छा से शामिल होने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर का शुक्रिया अदा किया है.

एक अंग्रेज़ी अखबार में चीफ जस्टिस की तरफ से कार पूलिंग करने के संबंध में एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी, जिसके बाद अरविंद केजरीवाल ने माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर लिखा है कि आपने अपने कृत्य से लाखों लोगों को प्रेरित किया है. अभियान में शामिल होने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद, हालांकि आपको छूट मिली हुई है.

राज्य के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी जस्टिस ठाकुर के वीआईपी प्रवृत्ति से छुटकारा पाने वाले इस कदम का स्वागत किया है. सिसोदिया ने ट्वीट किया है कि एक आम आदमी की तरह ही ऑड-ईवन रूल का पालन करने के लिए दिल्ली के नागरिक के रूप में मैं आपको सलाम करता हूं, योर ऑनर.

बता दें कि चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया और सुप्रीम कोर्ट के सभी जजों को ऑड-ईवन नियम से छूट मिली हुई है, लेकिन जस्टिस ठाकुर पहले ही कह चुके हैं कि वह दिल्ली की आबोहवा साफ करने के लिए दिल्ली सरकार के इस फॉर्मूले का समर्थन करेंगे.